Best 81+ Bhulna Quotes In Hindi | भूलने वाली शायरी

Bhulna Quotes In Hindi – नमस्कार दोस्तो स्वागत है आप सब का दोस्तों कभी नफरत होने की वजह कभी हमारा जिगरी दोस्त या यूं कहे कि सच्चा दोस्त होता है हमे भूल जाते है भूलना अच्छा भी होता है और बुरा भी होता है दोस्तों क्या आप अपने किसी करीबी को भूलना चाहते है और भुलाने के लिए कुछ बेहतरीन कोट्स ढूंढ रहे है तो आज हम आपके लिए कुछ बेहतरीन किसी को भूल जाने वाली शायरी लेकर आये है उम्मीद करते है आपको ये पोस्ट पसंद आयेगी

Bhulna Quotes In Hindi

इस पोस्ट में आपको मिलेंगे “भूलना शयरी“, भुलना स्टेटस, हिंदी में भुलना शायरी, हिंदी में भुलना स्टेटस, हिंदी में भूलना शायरी, हिंदी में भूलना स्टेटस, भूलना कोट्स „ भूलना शायरी हिंदी, दोस्त भूल गये शायरी, भुलना कोट्स हिंदी में दिए गए है


नोट :-
दोस्तों अगर आप किसी भी सरकारी या किसी भी जॉब की तैयारी कर रहे हो तो दी नीचे गई लिंक पर क्लिक करके आप किसी भी नौकरी के लिए क्वेश्चन और आंसर देख सकते है

Best 81+ Bhulna Quotes In Hindi | भूलने वाली शायरी

Bhulna Quotes In Hindi | भूलना शायरी स्टेटस

“ ये कहना था उन से मुहब्बत है मुझको ,
ये कहने में मुझे को जमाने लगे हैं,
क़यामत याक़िनन क़रीब आ गई है,
‘खुमार’ अब तो मस्जिद में जाने लगे हैं…!!

“ एक दिन किसी दूसरे से अपना दिल लगाओगे ,
ऐसा कर आप मेरे आंसुओ को और रुलाओगे ,
मेरी यादों में तो तुम बड़ा आओगे ,
पर आप मेरे को एक पल में भूल जाओगे…!!

“ जिया इतना की मरना मुश्किल हो गया,
हसे इतना की रोना मुश्किल हो गया,
किसी को पाना किस्मत की बात है,
चाहा इतना की भुलाना मुश्किल हो गया…!!

“ हमने अपनी यादों के बागीचे में,
तेरी यादों के पौधे को सींच कर रख रखा था ,
पर आप हमे अपनी यादों के बगीचे में ,
लगी गंदी घास समझ कर भूल गये…!!

“ किताबो मैं रख के सुला गया हमको,
आंख बंद की और भुला गया हमको,
कोई अजीब मुसावर था
जो बारिशों के मौसम में,
कच्ची दीवारों पे बना गया हमको…!!!

“ धोखा हमने फिर भी सह लिया था मगर ,
आप हमें भूल ही जाओगे।
ओह असहनीय सा लगता है…!!

दोस्त को भूलना शायरी

“ वो जो अपना था हमसे है खफा,
पता नहीं किस से हुई थी क्या खाता,
बे-वजह दिल नहीं टूट-ता किसी का,
तुम थे या हम थे बेवफा….!!

“ भूल कर उसे, हम चैन से सोते,
काश इश्क में काम इतने आसान होते….!!

“ कैसे कहे की उनसे मिलने की चाहत नहीं,
बेकरार दिल को अब भी राहत नहीं,
भुला देते उन्हें भी मगर क्या करे दोस्त,
किसी को भुलाने की इस दिल को आदत नही…!!!

“ घोसला बनाने में हम यूँ मशगूल हो गये,
कि उड़ने को पंख भी है, ये भी भूल गये…!!

“ बन के अजनबी मिली थी
जिंदगी के सफर में कहीं,
इन यादों के लम्हों को कभी भुलायेंगे नही ,
अगर याद रखना फितरत है आपकी,
भूल जाने की आदत हम भी नहीं…!!!

“ आप भूल गए हमें, लेकिन हम नहीं भूले,
याद करते हैं हर पल, बीते हुए जिंदगी के कुछ पल…!!

“ मुमकिन हो आपसे तो भुला दीजियेगा मुझे ,
पत्थर पे हु लकीर मिटा दीजियेगा मुझे,
हर रोज़ मुझसे है ताज़ा सिकायत अपको,
मैं किया हु एक बार बता दीजियेगा मुझे…!!

“ भूल गया था जो मंजर, वो जमाना याद आयाम,
मुद्दतों बाद दिखी तुम, वो फ़साना याद आया…!!

“ कब कोन किसी का होता है,
सब छोटे रिश्ते नाते है,
सब दिल रखने की बातें हैं,
सब असल रूप छुपाते हैं,
मोहब्बत के खाली लोग यहा…!!

“ वो पत्थर कहाँ मिलता है बताना जरा ऐ दोस्त,
जिसे लोग दिल पर रखकर एक दुसरे को भूल जाते है…!!

“ तेरे बिना हम जीना भूल जाते हैं,
ज़खमों को सीना भूल जाते हैं,
तू ज़िंदगी मैं सबसे अज़ीज़ है हम,
तुझसे हर बार ये कहना भूल जाते हैं….!!!

bhul gaye shayari

“ वो मेरा है तो वो मुझसे दूर क्यों हैं?
दूर रहकर जीने को हम मजबूर क्यों हैं
गुनाह (प्यार) हम दोनो ने किया था एक जैसा,
तो मेरा कसूर क्यूं है और वो बेक़सूर क्यूं है….!!

“ जो भुलाने से ज्यादा याद आता है,
वही तो इश्क़ कहलाता है,
बड़ी मुश्किल से मिलते हैं चाहने वाले,
क्यों भूल जाते हैं ये नफरत करने वाले…!!

“ तुमको भुला पायेंगे इतना हम मैं दम नहीं,
तुमने दिया जो गम वो मौत से काम नहीं,
यारो दिल के जाखम दिखाओ फसाना यार का है,
मोहब्बत झूठी है बहाना प्यार का है….!!

“ हमारी गलतियों से कही टूट न जाना,
हमारी शरारत से कही रूठ न जाना,
तुम्हारी चाहत ही हमारी जिदंगी है,
इस प्यारे से बंधन को भूल न जाना…!!

“ किस तरह और पास आओ मैं,
सिर्फ अपना तुमे बनाऊं मैं।
पास हो कर भी दूर हैं इतने,
किस निदा से तुम बुलाऊं मैं…!!

“ लोग अक्सर भूल जाते है वादे अपने जो कहते थे,
तुम्हारी आँखो में एक आँसू नही आने देंगे ,
आज वही रोता हुआ छोड़ कर चले गये…!!!

“ यादे दिल से मिटाने की चीज नहीं होती,
जिंदगी हर पल आजमने की चीज नहीं होती,
बेशक कुछ पल यूही भुला दिए जाते हैं,
पर प्यार भूल जाने की चीज नहीं होती…!!

“ अगर तेरी मजबूरी है भूल जाने की,
तो मेरी आदत है तुझे याद रखने की…!!

bhulne wali shayari

“ कभी दिल से मुस्कुरा कर देखो,
हमारी ग़ज़ल गुनगुना कर देखो,
हम भूल जाएंगे आपको एक सर्त पे,
पहले आप हमे भुला कर तो देखो…!!

“ मुझे भी सिखा दो भूल जाने का हुनर,
मुझसे रातों को उठ-उठ कर रोया नहीं जाता…!!

“ कोई गिला ना कोई सिकवा रहे आपसे ,
ये आरजू है एक सिलसिला रहे आपसे ,
बस एक छोटी सी इल्तिजा करते हैं हम,
भूलना नहीं चाहे कभी जुदा रहे आपसे..!!!

“ रात दिन बे क़रार रहता हूँ,
काश, लम्हे का चैन पावु मैं।
धूप है तेज, कहीं छाँव नहीं,
अबरा को, अब, कहां से लाओ मैं।
एक लम्हे भूला नहीं पाता,
ख़ूब कहते हो, भूल जाऊ मैं…!!

“ लफ्जो के तीर चलते हैं,
एक बार निगाहों में अगर,
फिर सारी जिंदगी रुलाते है,
वो जिस ने दिया है आश्क हमे,
अब वो ही हम को भूल जाते हैं….!!

“ सभी नगमे साज़ में गए नहीं जाते,
सभी लोग महफ़िल में बुलाये नही जाते,
कुछ पास रह कर भी याद नहीं आते,
कुछ दूर रहकर भी भूलाये नहीं जाते…!!

“ वो याद नहीं करते, हम भुला नहीं सकते ,
वो हंस नहीं सकते, हम रूला नहीं सकते,
है प्यार इतना खुबसूरत हमारा,
की वो बता नहीं सकते
और हम जता नहीं सकते…!!

“ तू नाम का दरिया है रवानी नहीं रखता ,
बादल है वो बे फैज़ के पानी नहीं रखता ,
ये अखरी खत अखरी तस्वीर भी ले जा,
मैं भूलने वालो की निशानी नहीं रखता….!!!

“ हम को भूल ना जाना तुम,
ये कहते हैं सब ही,
लेकिन आता है वक्त कुछ ऐसा,
के भूल जाते हैं खुद ही…!!

“ सारी उम्र आँखों में एक सपना याद रहा,
सदियाँ बीत गयी पर वो लम्हा याद रहा,
ना जाने क्या बात थी उनमें और हम में,
सारी महफ़िल भूल गये
बस वो चेहरा याद रहा…!!!

bhulne ki shayari

“ मेरी बरबादी पर तू कोई मलाल ना करना,
भूल जाना मेरा ख्याल ना करना,
हम तेरी ख़ुशी के लिए कफन ओढ़ लेंगे,
पर तुम मेरी लाश से कोई सवाल मत करना…!!!

“ खुदा का वास्ता खुद को कम नज़र ना करना ,
जो तेरा साथ न दे उस को हमसफर ना करना ,
जो भी गलती तुम से हुए सो हुई ,
या नादानी दोबारा अब उमर भर ना करना…!!

“ कहां आ के रुकने थे रास्ते,
कहां मोड़ था उसे भूल जा,
जो मिल गया उसे याद रख,
जो नहीं मिला उसे भूल जा…!!

“ ऐ दिल अब छोड़ भी दे उसे याद करना,
वो कलमा नही जो तू भूल गया
तो काफिर हो जायेगा…!!

“ उसे भूलना है तो खुद को बदल,
और इतना बदल की वो तुझे याद करे.
लोग कितनी जल्दी बदल जाते है…!!

“ गम यह नहीं कि कसम अपनी भुलाई तुमने,
गम तो यह है की रक़ीबो से निभाई तुमने,
कोई रंजिश थी अगर तुमको तो मुझसे कहते,
बात आपस की थी क्यों सबको बताई तुमने…!!

“ जिनके आंसू हमे भी रुला जाते है ,
अक्सर वहीं लोग अकेले आगे बढ़ कर ,
बगैर अपना समझे हमे भुला जाते है..!!

“ तुम मुझे भूल जाओ कहना आसान हैं,
लेकिन भूलना उतना ही मुश्किल हैं..!!

“ दिल से निकल दिया तेरी सारी बातों को,
तन्हाई की आग में फूँक दिया जज़्बातों को,
न उम्मीद की है तेरे मुद के आने की,
भुला दिया हमने तेरे दीन और तेरी रातों को…!!

“ अपने दिल की आवाज़ सुन
अफवाओं से काम ना ले,
मुझे याद कर बेसक मेरा नाम ना ले,
तेरा वहम है के हम भूल गए तुझे,
मेरी कोई सांस ऐसी
नहीं जो तेरा नाम न ले…!!

किसी को भूलने वाली शायरी

“ तुझे भूलकर भी ना भूल पायेंगे हम,
बस यही एक वादा निभाएंगे हम,
मीटा देंगे खुद को भी जहां से लेकिन,
तेरा नाम दिल से ना मीटा पायेंगे हम…!!

“ भूल से अगर कोई भूल हुई,
तो भूल समज के भूल जाना,
अरे भूलना सिर्फ भूल को,
भूलकर भी हमें ना भूल जाना…!!

“ बिताये पल वापस ला नहीं सकते,
सुखे फूल वापस खिला नहीं सके,
कभी कभी लगता है आप में भूल गए,
पर दिल कहता है के आप हम भुला न सकते हैं…!!!

“ एक दिल को दिल लगी से बचाया ना जा सका,
क़िस्मत से अपना आप चुराया ना जा सका,
हेरत है के लोग कैसे खुदा को भूल गए,
हम से तो एक इंसान भूलाया ना जा सका…!!

“ आंसू आ जाते हैं, आंखों में रोने से पहले,
हर ख़्वाब टूट जाते हैं, सोने से पहले,
इश्क है गुना ये तो समज गए,
काश कोई रोक लेता ये गुनाह होने से पहले…!!!

“ पल भर में जो टूट जाए वो कसम नहीं,
आप को भूल जाए वो हम नहीं,
आप हमें भूल जाएं इस बात में दम नहीं है,
क्यों के आप हमें भूल
जाओ इतने बुरे हम नहीं….!!

“ जिस दिन मिले थे
उस दिन को भूल गए ठीक है
अब याद इतनी दुन्दला चुकी है
तुम्हारी अब बर्थडे भी भूल गये…!!!

“ गमो में भी मुस्काना चाहता हूं,
एक नई दुनिया बसाना चाहता हूं,
मगर ना जाने क्यों निकल आते हैं आंसू ,
जब भी तुम्हें भुलाना चाहता हूं में…!!!

“ वो भूल गए कि उन्हें हसाया किसने था,
जब वो रूठे थे तो मनाया किसने था,
वो कहते हैं वो बहुत अच्छे है शायद,
वो भूल गए कि उन्हें यह बताया किसने था…!!

अपनो को बदलने पर शायरी

“ कितने मतलबी हैं हम,
कि अपना ही घर देखते हैं !
गर जलता है घर किसी का,
तो अपने हाथ सेकते हैं …!!!

“ कितने छलों प्रपंचों से भरे हैं
इस दुनिया के लोग,
खून के रिश्तों में भी,
परायों सा अक्स देखते हैं…!!

“ हम हैं कि क्या क्या सोचते हैं
गलत औरों के फेर में,
अफसोस कि खुद को भी,
औरों की नज़र से देखते हैं…!!

“ ना जाने किस बात की वो
मुझ को सज़ा देता है,
मेरे हंसती हुई आंखों को रूला देता है,
हम को मलूम नहीं कोई हमसे पूछो तो,
क्या कोई इस तरह अपना को भुला देता है…!!

“ वो मुझे भूल गयी है लेकिन ,
उसकी यादें अब भी मुझे रुलाती है ,
जितना भूलना चाहूँ म उन यादों को ,
वो यादें उतनी ही याद आती है….!!!

“ बहुत अच्छा टाइम पास किया,
जब चाचा याद किया,
जब चाचा बात किया,
और जब चाचा भुला दिया…!!

“ जिनकी औकात होती है
वो दिमाग में रहते है,
और जिसमे कोई बात हो तो वो दिल में,
अब तुम ही बताओ क्योकि,
मुझे तो तुम्हारा नाम तक याद नहीं…!!

“ अजब तरह से सोचा है जिंदगी के लिए,
ज़खम ज़खम लिखते हैं हर खुशी के लिए,
वो सक्स मुझे भूल गया तो यक़ीन आया,
कोई भी सक्स जरूरी नहीं किसी के लिए…!!!

“ भूलना तुमहे ना आसन होगा,
जो भूले तुम्हें वो नादान होगा।
आप तो बसे हो रूह में हमारी,
आप हमें न भूले ये
आपका एहसान होगा…!!

“ कुछ दिन के लिए अपनों से बात करना,
थोड़ा कम करके तो देखो,
फिर देखना कैसे लोग तुम्हे भूल जाते है.
लोग अपनी औकात भूल जाते है…!!!

bhulne wali shayari in hindi

“ कोई पूछेगा उस धोखेबाज सनम को ,
जन्मो तक साथ निभाने का वादा कर ,
फिर क्यों भूल गये हमको…!!

“ न तो गमो को छुपा रहे है,
न तो भूलने की कोशिश कर रहे है,
बस तुमसे दिल लगाने की जुर्म में,
खुद को तकलीफ दिए जा रहे है….!!!

“ अक्सर लोग हमें भूल जाते है और हम बेवकूफ,
उनकी यादो में अपना आशियाना बनाते है…!!

“ जिन यादों को आज आप भूल गए ,
उन्ही यादों को याद कर बार बार रोया हूँ।
तेरे भूल जाने के बाद भी आज तक में ,
उन्ही यादों में खोया हूँ…!!

” जिनको गैर नहीं अपना समझ कर अपना बनाते है ,
वो लोग ही बगैर सोचे हमे भूल जाते है…!!

“ माना बड़े आदमी हो मगर ,
रिश्तों में छोटे बड़े का फर्क नहीं होता।
भूल गए हो आज हमे शायद लगता है ,
तुम्हारे लिए इन रिश्तों में ऐसा
कोई फर्क नहीं होता…!!

“ खमोश क्या रहे साहब !
यहाँ तो अपने ही लोग हमे भुला बैठेंगे…!

“ भूल गए वो दिन भी क्या दिन थे,
जब मेने आपको फूल दिया था।
और आपने थपड़ के साथ मुझसे ,
प्यार का इजहार किया था…!!

“ मरने तक का साथ तो निभालो ,
मरने के बाद तो लोगो की तरहा,
तुम भी हमे भूल जाओगे…!!

“ गमो मैं हम हसना भूल गए,
खुशी का तराना भूल गए,
तेरी याद मैं आँसू बहाते बहाते ,
हम एक पल भी मुस्कुराना भूल गए…!!

“ कुछ लोग बड़े कमीने होते ,
अपना अपना कह कर पास तो बड़े आते है,
पर थोड़ा वक्त निकलते ही अपनों को भूल जाते है…!!

“ सोचा था इस कदर उनको भूल जायेंगे,
देखकर भी अनदेखा कर जायेंगे,
पर जब-जब सामने आया उनका चेहरा ,
सोचा एक बार देखले,
अगली बार भूल जायेंगे…!!

bhulne wali shayari images

“ आंसुओ के मोती को अक्सर अकेले ही ,
धागे में पिरोया करते थे।
उनको याद कर हर उस
वक्त बड़ा रोया करते थे…!!

“ उनसे दूर जाने का इरादा ना था,
सदा साथ रहने का भी वादा ना था,
वो याद ना करेंगे ये जनते थे हम,
पर इतनी जल्दी भूल जाएंगे,
अंदाज ना था…!!

“ कहा करती थी जिंदगी का
हर सफर साथ में जियेंगे ,
गमों के हर घूंट को साथ में पियेंगे ,
पर सब फरेब था ,दगाबाज लड़की ,
अब हमे भूल चुकी है…!!

दोस्तों हम आशा करते है की आपको भूलना कोट्स इन हिंदी पसंद आई हो दोस्तों आपको ये हमारा पोस्ट पसंद आया है तो आप इन्हे अपने दोस्तों को भी भेज सकते हो दोस्तों ऐसे हे कोट्स शायरिया और स्टेटस वाले आर्टिकल के लिए हमारे Telegram Group को भी Join कर सकते हो

नोट :- दोस्तों नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करके आप Telegram channel को Join कर सकते हैं

Best 81+ Bhulna Quotes In Hindi | भूलने वाली शायरी

इन्हें भी पढ़े :-

Leave a Comment

%d